Skip to main content

नौकरी कब मिलेगी : कृष्णामूर्ति पद्धित विश्लेषण

नौकरी पाना हमेशा मुश्किल होता है और जब करियर की शुरुआत होती है तो एक विजयी लकीर के साथ शुरुआत करना बेहद जरूरी होता है। 2000 में पैदा हुए इस मूल निवासी को नौकरी मिल गई क्योंकि वह एथिकल हैकिंग में मास्टर है और एथिकल हैकिंग के लिए कई प्रस्तुतियां और कक्षाएं कर रहा है। वह नई दिल्ली से हैं। एथिकल हैकिंग सीखने के लिए बहुत बढ़ती धारा बन गई है और लोग इसमें शानदार काम कर रहे हैं। हालांकि वह पहले पूर्णकालिक नौकरी रोल पर नहीं थे। कई कंपनियां और अब कई तरह की निजी और सरकारी एजेंसियां ​​चाहती हैं कि हैकर्स उनके ऐप या वेबसाइट में बग ढूंढ सकें। इस प्रकार कोई आश्चर्य नहीं कि यदि आप इसे जल्दी सीखते हैं तो आप इस धारा में अपने बाद के जीवन में महान कार्य करेंगे। जितना अधिक आप जानेंगे उतना ही अधिक पैसा आप कमाएंगे।

यहाँ का मूल निवासी तुला लग्न और मेष चन्द्रमा है। वह वर्तमान में 11-05-2020 तक शुक्र की महादशा चला रहा है और वर्तमान अंतराणु केतु का है जो कि अंतिम अंतरा है। केतु को सूर्य के तारे में तीसरे और शुक्र के उप में रखा गया है। मैंने इस मूल के माता-पिता को एक साल पहले बताया था कि जब यह केतु शुरू होगा तो आपका बेटा काम करना शुरू कर देगा। उसने केतु अंतरा से आगे की कमाई शुरू कर दी, लेकिन उसके पास पूर्णकालिक नौकरी नहीं थी। 7 दिसंबर 2020 को उन्हें एक साक्षात्कार का सामना करना पड़ा और 9 दिसंबर को नियुक्ति पत्र के साथ नियुक्ति पत्र दिया गया जिसमें 16 दिसंबर 2020 तक शामिल होने की तारीख थी।

बृहस्पति प्रतिहार चल रहा है। बृहस्पति 6 वें भाव में है। यह केतु के तारे में और राहु के उप में है। केतु चार्ट में तीसरे भाव में और 9 वें में राहु है। राहु और केतु दोनों शुक्र के उप में हैं जो तीसरे घर में है। केतु शत्रु सूर्य है और राहु इसके स्वामी हैं और सूर्य 11 वें भाव का स्वामी है।
उन्हें 9 दिसंबर को नियुक्ति पत्र मिला जब सूरज बुध के तारे और चंद्रमा के उप में गोचर कर रहा था। 16 तारीख को सूर्य शामिल होने के दिन केतु के उप में थे और अंतरा स्वामी। सूर्य बृहस्पति धनु राशि में है। 7 दिसंबर 2020 को सूर्य बुध के तारे और शुक्र के उप में गोचर कर रहा था। शुक्र महशा दशा स्वामी है। इस प्रकार हम देखते हैं कि पूरा इंटरव्यू, अपॉइंटमेंट और ज्वाइनिंग का दिन सूर्य या तो महादशा या अंतरा या प्रत्यंतर या उन दोनों से जुड़ा था। यही कारण है कि केपी Ssystem में एक घटना को इंगित करने के लिए सूर्य का पारगमन इतना महत्वपूर्ण है।
भुगतान प्रक्रिया पूरी करके आप मुझसे अपने प्रश्न भी पूछ सकते हैं। 7566384193 पर मुझे वाट्सएप करें।


naukaree paana hamesha mushkil hota hai aur jab kariyar kee shuruaat hotee hai to ek vijayee lakeer ke saath shuruaat karana behad jarooree hota hai. 2000 mein paida hue is mool nivaasee ko naukaree mil gaee kyonki vah ethikal haiking mein maastar hai aur ethikal haiking ke lie kaee prastutiyaan aur kakshaen kar raha hai. vah naee dillee se hain. ethikal haiking seekhane ke lie bahut badhatee dhaara ban gaee hai aur log isamen shaanadaar kaam kar rahe hain. haalaanki vah pahale poornakaalik naukaree rol par nahin the. kaee kampaniyaan aur ab kaee tarah kee nijee aur sarakaaree ejensiyaan ​​chaahatee hain ki haikars unake aip ya vebasait mein bag dhoondh saken. is prakaar koee aashchary nahin ki yadi aap ise jaldee seekhate hain to aap is dhaara mein apane baad ke jeevan mein mahaan kaary karenge. jitana adhik aap jaanenge utana hee adhik paisa aap kamaenge.
yahaan ka mool nivaasee tula lagn aur mesh chandrama hai. vah vartamaan mein 11-05-2020 tak shukr kee mahaadasha chala raha hai aur vartamaan antaraanu ketu ka hai jo ki antim antara hai. ketu ko soory ke taare mein teesare aur shukr ke up mein rakha gaya hai. mainne is mool ke maata-pita ko ek saal pahale bataaya tha ki jab yah ketu shuroo hoga to aapaka beta kaam karana shuroo kar dega. usane ketu antara se aage kee kamaee shuroo kar dee, lekin usake paas poornakaalik naukaree nahin thee. 7 disambar 2020 ko unhen ek saakshaatkaar ka saamana karana pada aur 9 disambar ko niyukti patr ke saath niyukti patr diya gaya jisamen 16 disambar 2020 tak shaamil hone kee taareekh thee.
brhaspati pratihaar chal raha hai. brhaspati 6 ven bhaav mein hai. yah ketu ke taare mein aur raahu ke up mein hai. ketu chaart mein teesare bhaav mein aur 9 ven mein raahu hai. raahu aur ketu donon shukr ke up mein hain jo teesare ghar mein hai. ketu shatru soory hai aur raahu isake svaamee hain aur soory 11 ven bhaav ka svaamee hai.
unhen 9 disambar ko niyukti patr mila jab sooraj budh ke taare aur chandrama ke up mein gochar kar raha tha. 16 taareekh ko soory shaamil hone ke din ketu ke up mein the aur antara svaamee. soory brhaspati dhanu raashi mein hai. 7 disambar 2020 ko soory budh ke taare aur shukr ke up mein gochar kar raha tha. shukr mahasha dasha svaamee hai. is prakaar ham dekhate hain ki poora intaravyoo, apointament aur jvaining ka din soory ya to mahaadasha ya antara ya pratyantar ya un donon se juda tha. yahee kaaran hai ki kepee ssystaim mein ek ghatana ko ingit karane ke lie soory ka paaragaman itana mahatvapoorn hai.
bhugataan prakriya pooree karake aap mujhase apane prashn bhee poochh sakate hain. 7566384193 par mujhe vaatsep karen.

sarkari naukri by date of birth

sarkari naukri ka yog in kundli by date of birth

sarkari naukri ke yog kaise bante hai

rashi ke anusar naukri

kundli mein naukri

sarkari naukri yoga

sarkari naukri by date of birth in hindi

government job yog in my kundli free




Comments

Popular posts from this blog

नीम करोली महाराज जी का बुलावा: काकडी घाट मंदिर पर भंडारा १७.११.२०१९

(यह हिंदी गूगल से अनुवादित है और जहां मुझे गलती लगी वहां मैंने ठीक करने का प्रयास करा है फिर भी गलती रह ही गयी होगी जिसके लिए मैं अभी से क्षमा प्रार्थी हूँ )

(https://www.indiastroreiki.com/2019/11/neeb-karori-maharaj-calling-come-to.html) The original article in English

अपने सभी ब्लॉगों की तरह, मैं यह भी आश्वस्त करना चाहता हूं कि मैं जो भी कहूंगा, वह  सत्य होगा और अगर कोई त्रुटि / असत्य / झूट हो तो मैं महाराज जी से क्षमा मांगता हूं। 

कई साल पहले 2012 या 13 में, मुझे सही से याद नहीं है और कोई ज़रूरत नहीं है, मैं कोलर रोड भोपल के पास काली मंदिर गया, मुझे भूख लग रही थी, उन दिनों मैं "योगी कथामृत" में डूबा हुआ था और देवी जी  से बात कर रहा था । एक परिवार ने आकर माताजी को प्रसाद चढ़ाया। मुझे भूख लगी थी और मैंने माँ से कहा, आपने योगानंद जी को इतना कुछ दिया है कि क्या आप मुझे खाने के लिए सिर्फ कुछ दे सकती  हैं, और अगले ही पल, मैं अपनी आँखों को ठीक से झपका भी नहीं सका, मंदिर की महिला ने मुझे प्रसाद दिया। मैं  खुशी से भर गया और मेरे अंदर आनंद आ गया और मुझे वह घटना याद आ गई…

दिल्ली विधान सभा चुनाव २०२० कौन मारेगा बाजी : ज्योतिषीय आकलन

(यह लेख मेरे मूल अंग्रेजी लेख का गूगल हिंदी अनुवाद है मूल लेख के लिए यहाँ क्लिक करें   who will win 2020 delhi vidhan sabha election)

for horoscope consultation wattsapp only 7566384193 आज नई दिल्ली में चुनाव की तारीखें घोषित कर दी गई हैं। मुख्य प्रतियोगी AAP, BJP, INC हैं और मज़ेदार हैं कि वे न केवल वर्णानुक्रम में सही हैं, बल्कि वास्तविक स्थिति भी नई दिल्ली में हैं। आइए हम सभी तीनों पक्षों के बारे में कुछ बात करते हैं और मेरी यह "बात" केवल मीडिया समाचार रिपोर्टों पर आधारित है और मेरे विचार बिल्कुल व्यक्तिगत नहीं हैं।

इसलिए, AAP के साथ शुरू करने के लिए अब आम आदमी या आम आदमी के लिए बहुत कुछ किया जा रहा है और वे अपने चुनावी वादों को लागू करने में बहुत सफल रहे हैं जैसा कि उनके फेस बुक पोस्ट और समाचार विज्ञापनों में बताया गया है। इसलिए मैं कहूंगा कि वे काम कर रहे हैं और अब जब मैं मीडिया को देखता हूं और लोग सामाजिक व्यस्तताओं पर बात करते हैं तो मैं इस पार्टी AAP के बारे में एक सकारात्मक शब्द सुनता हूं।

दूसरी पार्टी में आना, जो कि भाजपा है जो पहले से ही केवल 6 राज्यों में हार गई…

Neeb Karori Maharaj Calling :Come to kakdi ghat and have my bhandara

Like all of my blogs, I want to reassert that what ever I will say will be the truth to best of my knowledge and if there are any errors I beg to Maharaj ji to forgive me.  

hindi mein padhne ke liye yahaan click karein

Many yearsNeeem Karoli Baba Books By Amazon back in 2012 or 13, I do not remember correctly and there is no need to, I went to Kali temple near kolar road bhopal, I was feeling hungry, those days I was immersed in Autobiography of a Yogi and was talking to Goddess Kali ji. A family came and offered prasad to Mataji. I was hungry and I said to Maa, you gave so much toNeeem Karoli Baba Books By Amazon yoganand ji can`t you give me just something to eat, and the next moment, I could not even blink my eyes properly, The lady in the temple Took the thali and offered the prasad to me. I was all tears joy and bliss came out inside of me and I remembered the incident when Paramhans Yoganandji goes to kali ji temple with his brother in law and his brother in law mocks at the …