Skip to main content

Numerology course done by Jyoti Bansal at Delhi




Joyti Bansal completed her Numerology course  received the certificate with her Mother. You can also learn Reiki, Sujok, Numerology, Astrology, Crystal Healing, Dowsing, Palmistry from us and make a \primary or secondary Career. 



Comments

Popular posts from this blog

दिल्ली विधान सभा चुनाव २०२० कौन मारेगा बाजी : ज्योतिषीय आकलन

(यह लेख मेरे मूल अंग्रेजी लेख का गूगल हिंदी अनुवाद है मूल लेख के लिए यहाँ क्लिक करें   who will win 2020 delhi vidhan sabha election ) for horoscope consultation wattsapp only 7566384193 आज नई दिल्ली में चुनाव की तारीखें घोषित कर दी गई हैं। मुख्य प्रतियोगी AAP, BJP, INC हैं और मज़ेदार हैं कि वे न केवल वर्णानुक्रम में सही हैं, बल्कि वास्तविक स्थिति भी नई दिल्ली में हैं। आइए हम सभी तीनों पक्षों के बारे में कुछ बात करते हैं और मेरी यह "बात" केवल मीडिया समाचार रिपोर्टों पर आधारित है और मेरे विचार बिल्कुल व्यक्तिगत नहीं हैं। इसलिए, AAP के साथ शुरू करने के लिए अब आम आदमी या आम आदमी के लिए बहुत कुछ किया जा रहा है और वे अपने चुनावी वादों को लागू करने में बहुत सफल रहे हैं जैसा कि उनके फेस बुक पोस्ट और समाचार विज्ञापनों में बताया गया है। इसलिए मैं कहूंगा कि वे काम कर रहे हैं और अब जब मैं मीडिया को देखता हूं और लोग सामाजिक व्यस्तताओं पर बात करते हैं तो मैं इस पार्टी AAP के बारे में एक सकारात्मक शब्द सुनता हूं। दूसरी पार्टी में आना, जो कि भाजपा है जो पहले से ही केवल 6 राज्यों मे

मेनोपॉज़ या रजोनिवृत्ति के समय कैसे रखें ख़ुद का ख़याल

आज लेख की शुरुआत दोस्तों या मित्रों से नहीं प्रिय सहेलियों से करूँगी।क्योंकि बात मेरी और आपकी है।हर औरत के जीवन में कई पड़ाव आते हैं और हर पड़ाव को हम औरतें बख़ूबी निभाती है।मेनोपॉज़ या मासिक धर्म का बंद होना ये भी एक फ़ेज़ होता है।शारीरिक और मानसिक दोनों ही तौर पर एक बड़ा बदलाव हमारे जीवन में आता है।उम्र के उस मोड़ पर औरत होती है जब खुद का स्वास्थ्य परिवार बच्चे सभी आपको धीरे-धीरे छोड़ रहे होते हैं।बच्चे अपने जीवन में व्यस्त होने लगते हैं।पति की व्यस्तता परिवार को पालने के चरम पर होती है।और आपकी मौजूदगी बस उनकी ज़रूरतों तक सीमित हो जाती है। और शरीर का चल रहा सालो पुराना चक्र भी बिगड़ जाता है।जिससे एक अवसाद डिप्रेशन आपको घेर लेता है।चिड़चिड़ापन घबराहट ग़ुस्सा आना ये आपकी नई आदत बन जाता है।डॉक्टर के पास जाकर बिना बात के हॉर्मोन्स लेना कदापि कोई इलाज नहीं होता ये और एक बड़ी गलती आप करती हो।जब भी बढ़ती उम्र में पीरियड बिगड़ें तो    बस एक अल्ट्रासाउंड करवा लें कि सब ठीक है या नहीं और ३-४ महीने में इसे रिपीट करें।मेनोपॉज़ एक नैचुरल प्रोसेस है जो अपने तरीक़े से होना ही है।इसमें कोई

Neem Karoli Baba: My trip to Neeb Karori dham Farrukhabad Uttar Pradesh :His Grace Continues

श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम  श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम  श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम  श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम  श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम  श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम  श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम  श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम  श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम  श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम जय जय राम श्रीराम जय राम