Skip to main content

Will Narendra Modi be Re-Elected in Lok Sabha Polls 2019 as Prime Minister of India : Hindi mein padhiye

        2019 लोक सभा चुनाव : क्या नरेन्द्र मोदी फिर से जीतेंगे ?



नरेन्द्र मोदी जी ने २०१४ का चुनाव आश्चर्य जनक सफलता के साथ जीता था | किसी को इतनी आशातीत सफलता की उम्मीद नहीं थी |  २०१९ में फिर से लोक सभा चुनाव होने जा रहे हैं | २०१९ लोक सभा चुनाव के लिए बहुत सरगर्मी फैली हुई है और सभी तरह के हथकंडे अपनाए जा रहे हैं | 

मित्रों देश में चुनावी हलचल बहुत ज़ोरों पर है | पूरा सोशल मीडिया और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया अनेकों ख़बरों से भरा पड़ा हुआ रहता है | समाचार पत्र भी पीछे नहीं है | २०१९ का चुनाव भारत के इतिहास का सबसे बड़ा चुनाव होने जा रहा है और इसमें कोई दो मत नहीं हो सकते | 

आज wattsapp पर मेरे एक बहुत पुराने मित्र श्री आनंद त्रिवेदी जी ने पूछ लिए की क्या मोदी जी फिर से आ रहे हैं तो मैंने कहा की १ से २४९ तक का कोई क्रमांक मुझे बताइए और में कृष्णामूर्ति पद्धति से इसका उत्तर आपको देता हूँ अभी के अभी | 

उन्होंने मुझे १९ नंबर दिया और ये है उस नंबर की बनी हुई कुंडली २०१९ लोक सभा चुनाव में नरेन्द्र मोदी जी के लिए : 


किसी भी कम्पटीशन में जीत के लिए षष्ठ भाव के उपनक्ष्त्र स्वामी की भूमिका बहुत महत्त्वपूर्ण होती है | यहाँ वह शनि है जो कि केतु के नक्षत्र में है और इस समय गोचर में शनि वक्री है | किन्तु चुनाव अभी नहीं होने हैं | शनि स्वयं ही दशम और लाभ का स्वामी है और वह अष्टम भाव में है | 

केतु, जो कि शनि का नक्षत्र स्वामी है वह वक्री मंगल के साथ युति करके बैठा हुआ है और उस पर बुध की द्रष्टि भी है | किसी भी अन्य गृह की द्रष्टि केतु पर नहीं है | अतः केतु १,३,६,८,१०,११ भावों का कार्येष है | यही भाव विरोधी के लिए विरोधी हैं | 

हम द्वादश भाव के उपनक्ष्त्र स्वामी को भी देखते हैं और वह ब्रहस्पति है जो की अभी कुछ ही दिन पहले मार्गी हुआ है | वह विरोधी के द्वादश स्थान में है और राहू के नक्षत्र में है | राहू बुध के साथ युति किये हुए है और मंगल से द्रष्ट है | अतः राहू विरोधी के ९, १०, 12, २, ७, और चतुर्थ भाव को दर्शाता है किन्तु यहाँ षष्ठ और लाभ स्थान नहीं हैं | 

२०१९ लोकसभा चुनाव में विजयी की गणना करने में हामको लग्न और सप्तम भाव की स्थिति भी देख लेनी चाहिए की क्या वास्तव में नरेन्द्र मोदी के लिए उपरोक्त लग्न पर्याप्त बलि है की नहीं ? 

लग्न का नक्षत्र ,उपनक्ष्त्र, और उप-उपनक्ष्त्र  स्वामी  स्वयं सूर्य है जो की एक राजसी गृह है | सूर्य ब्रहस्पति के नक्षत्र में विराजमान है जो कि षष्ठ भाव में है| सूर्य अपने ही उपनक्ष्त्र में है | अतः लग्न बहुत बलि है | इसमें कोई दो मन नहीं हो सकते | 
सप्तम भाव का उपनक्ष्त्र स्वामी शुक्र है | शुक्र स्वयं ही लाभ स्थान में है | शुक्र केतु के नक्षत्र में है और बुध के उपनक्ष्त्र में है | हमने अभी देखा की केतु विरोधी के सभी खराब भावों को पदर्शित कर रहा है | निश्चित रूप से सप्तम भाव भे बलि है किन्तु लग्न जितना नहीं है |

हमको दशम भाव भी देखना चाहिए और यहाँ दशम भाव का उपनक्ष्त्र स्वामी मंगल है जो की अभी वक्री है किन्तु येही मंगल चंद्रमा के नक्षत्र में है जो दशम भाव में स्थित है | मंगल का उपनक्ष्त्र स्वामी  राहू है जो की बुध के साथ युति किया हुआ है | 

चतुर्थ भाव का उपनक्ष्त्र स्वामी चंद्रमा है  केतु के नक्षत्र में है और शुक्र के उपनक्ष्त्र में है | शुक्र स्वयं ही केतु के नक्षत्र में है | 
अतः दशम भाव भी लग्न के लिए अधिक बलि सिद्ध हो रहा है | 

जब चुनाव होंगे तब सूर्य का अंतर केतु की महादशा में चल रहा होगा | सूर्य जैसा की ऊपर बताया है गुरु के नक्षत्र और स्वयं के उपनक्ष्त्र में है अतः लग्न के लिए अधिक फलदायी है | क्योंकि वह विरोधी के द्वादश भाव का उच्च कोटि का प्रदर्शक है | 
अगर हम अभी के रूलिंग गृह लें तो :

Ls= Ketu
L= Jupiter
Ms =Ketu
Msi = Leo= Sun
Day Lord = Sun

अभी १७:२६ , १५-०७-२०१८, नई  दिल्ली के रूलिंग गृह सभी लग्न के लिए पॉजिटिव हैं और विरोधी के लिए नहीं | 


निष्कर्ष : वर्ष २०१९ में होने वाले लोकसभा चुनाव में नरेन्द्र मोदी फिर से जीतेंगे और पुनः देश के प्रधान मंत्री बनेंगे

#narendramodi, #loksabhapolls2019, #whowillwin in 2019, #2019elections, #winnerin2019 , lok sabha polls 2019, who will be the winner in 2019 lok sabha polls, modi ka jaadu chalega ki nahin, will modi magic work again, क्या मोदी जी फिर से देश के प्रधानमंत्री बनेंगे , क्या भारतीय जनता पार्टी जीतेगी की नहीं ?




Comments

Popular posts from this blog

दिल्ली विधान सभा चुनाव २०२० कौन मारेगा बाजी : ज्योतिषीय आकलन

(यह लेख मेरे मूल अंग्रेजी लेख का गूगल हिंदी अनुवाद है मूल लेख के लिए यहाँ क्लिक करें   who will win 2020 delhi vidhan sabha election ) for horoscope consultation wattsapp only 7566384193 आज नई दिल्ली में चुनाव की तारीखें घोषित कर दी गई हैं। मुख्य प्रतियोगी AAP, BJP, INC हैं और मज़ेदार हैं कि वे न केवल वर्णानुक्रम में सही हैं, बल्कि वास्तविक स्थिति भी नई दिल्ली में हैं। आइए हम सभी तीनों पक्षों के बारे में कुछ बात करते हैं और मेरी यह "बात" केवल मीडिया समाचार रिपोर्टों पर आधारित है और मेरे विचार बिल्कुल व्यक्तिगत नहीं हैं। इसलिए, AAP के साथ शुरू करने के लिए अब आम आदमी या आम आदमी के लिए बहुत कुछ किया जा रहा है और वे अपने चुनावी वादों को लागू करने में बहुत सफल रहे हैं जैसा कि उनके फेस बुक पोस्ट और समाचार विज्ञापनों में बताया गया है। इसलिए मैं कहूंगा कि वे काम कर रहे हैं और अब जब मैं मीडिया को देखता हूं और लोग सामाजिक व्यस्तताओं पर बात करते हैं तो मैं इस पार्टी AAP के बारे में एक सकारात्मक शब्द सुनता हूं। दूसरी पार्टी में आना, जो कि भाजपा है जो पहले से ही केवल 6 राज्यों मे

मेनोपॉज़ या रजोनिवृत्ति के समय कैसे रखें ख़ुद का ख़याल

आज लेख की शुरुआत दोस्तों या मित्रों से नहीं प्रिय सहेलियों से करूँगी।क्योंकि बात मेरी और आपकी है।हर औरत के जीवन में कई पड़ाव आते हैं और हर पड़ाव को हम औरतें बख़ूबी निभाती है।मेनोपॉज़ या मासिक धर्म का बंद होना ये भी एक फ़ेज़ होता है।शारीरिक और मानसिक दोनों ही तौर पर एक बड़ा बदलाव हमारे जीवन में आता है।उम्र के उस मोड़ पर औरत होती है जब खुद का स्वास्थ्य परिवार बच्चे सभी आपको धीरे-धीरे छोड़ रहे होते हैं।बच्चे अपने जीवन में व्यस्त होने लगते हैं।पति की व्यस्तता परिवार को पालने के चरम पर होती है।और आपकी मौजूदगी बस उनकी ज़रूरतों तक सीमित हो जाती है। और शरीर का चल रहा सालो पुराना चक्र भी बिगड़ जाता है।जिससे एक अवसाद डिप्रेशन आपको घेर लेता है।चिड़चिड़ापन घबराहट ग़ुस्सा आना ये आपकी नई आदत बन जाता है।डॉक्टर के पास जाकर बिना बात के हॉर्मोन्स लेना कदापि कोई इलाज नहीं होता ये और एक बड़ी गलती आप करती हो।जब भी बढ़ती उम्र में पीरियड बिगड़ें तो    बस एक अल्ट्रासाउंड करवा लें कि सब ठीक है या नहीं और ३-४ महीने में इसे रिपीट करें।मेनोपॉज़ एक नैचुरल प्रोसेस है जो अपने तरीक़े से होना ही है।इसमें कोई

रेकी से पहला कैंसर का उपचार : सुधा रेकी

रेकी का तीसरे स्तर का शक्तिपात (Reiki level three attunement ) प्राप्त हुआ ही था की मुझे पता चला की मेरी सहेली ने एक दिन बताया की उसके पड़ोस में रहने वाले रहने वाली एक छह साल की बच्ची को कैंसर डिटेक्ट हुआ है Best Certified Reiki Products From Amazon Buy Now |  उसके ऊपरी मसूड़ों में कैंसर था जो की धीरे धीरे ऊपर की तरफ बढ़ रहा था | डॉक्टरों ने बोल दिया था की ऑपरेशन करना पड़ेगा लेकिंग बच्ची का चेहरा बिगड़ जाएगा और अगर उसको बढ़ने दिया तो जीवन अधिक शेष नहीं है |  मैंने अपने रेकी मास्टर से इसके बारे में बात करी लेकिन उन्होंने बहुत निराशाजनक उत्तर देकर बात को टाल दिया, लेकिन उन्होंने ही एक बार कहा था की एक रेकी हीलर को हर संभव प्रयास करना चहिये और मैंने करा भी यही Best Certified Reiki Products From Amazon Buy Now |  रेकी से ऊर्जान्वित करके मैंने अपनी सहेली के द्वारा उस बच्ची को पानी और क्रिस्टल माला भिजवाई और उसकी हीलिंग शुरू कर दी | जब जब बच्ची सोती तो उसकी माँ मुझे फोन करती और मैं उस बच्ची की हीलिंग करती |  डॉक्टरों ने कुछ मोहलत दी थी की अगर उस  बच्ची का कैंसर अगली जांच में और आ