Saturday, 26 October 2019

विवाह का निर्धारण: केपी प्रणाली द्वारा भविष्यवाणी

(यह मूल अंग्रेजी फलादेश का गूगल हिंदी अनुवाद है , मेरे मूल लेख के लिए Fixation of Marriage) कोष्ठक में दिए गए लिंक को क्लिक करें 



आचार्य रमन  7566384193
मुझे यह कुंडली एक ऑनलाइन ऐप से मिली है। मैंने उसे अपने जीवन आदि के बारे में कुछ बातें बताईं और उससे पूछा कि वह मुझसे क्या पूछना चाहता है। उन्होंने कहा कि उन्हें अपनी शादी तय करने में समस्या हो रही है। उनकी कुंडली देखने के बाद मैंने उनसे कहा कि उनकी शादी 5 नवंबर 2019 तक तय हो जाएगी।



22 अगस्त 1992 को जन्म हुआ, 6:50, 74E45- 22N12
वह वर्तमान में 11-02-2025 तक राहु की महादशा चला रहा है और अंतरात्रि 03-09-2021 तक शुक्र का है, शुक्र, बृहस्पति, सूर्य अपने 7 वें भाव को देख रहे हैं। उनका 7 वाँ शुभ उप स्वामी बुध है। इसे साइन कैंसर में रखा गया है। बुध, बुध के तारे में और बुध के उप में है।
 बुध 2-11 घरों का शासक है और इस प्रकार कुंडली में विवाह का वादा किया जाता है। इसके अलावा, केपी ज्योतिषियों को पता है कि काहार्ट भी बुध की उपस्थिति के कारण तलाक के लिए इतनी दृढ़ता से है। इसके अलावा 12 वें घर में 7 वें सीएसएल एक स्वागत योग्य संकेत नहीं है।

राहु, महादशा भगवान बृहस्पति के हस्ताक्षर में है जो मूल निवासी के लिए अच्छा करने के लिए अपनी शक्ति को दूर करता है। यहां राहु अधिक महत्वपूर्ण हो जाता है। राहु केतु तारे में और चंद्रमा के उप में है। केतु बुध संकेत में है और इस प्रकार बुध का एक एजेंट है। बुध भी 7 वाँ शुभ उप स्वामी है। केतु मंगल तारा में और शुक्र के उप में है।
शुक्र 7 वें भाव का पहलू है और शुक्र के तारा में और बुध के उप में स्थित है।
इस प्रकार वे 7 वें घर या 7 वें सीएसएल के साथ जुड़ रहे थे। विवाह निश्चित हो गया या शुक्र के अंतरा में मनाया गया। लेकिन जब? राहु न केवल बृहस्पति के संकेत में है, बल्कि इसके द्वारा भी आकांक्षी है। इस प्रकार बृहस्पति के हस्ताक्षर के कारण राहु विवाह देने के लिए बहुत मजबूत है। तो मैंने उनसे कहा कि 5 नवंबर तक आपकी शादी तय हो जाएगी, मैं आपकी जन्मकुंडली के आधार पर यह मजबूत महसूस कर रहा हूं। राहु प्रतिनतारा १०-०३-२०२० तक था और बृहस्पति सूक्ष्मा तिथि 16 नवंबर तक थी।

कुछ दिन पहले मुझे उसका संदेश मिला कि उसकी शादी कुछ दिन पहले  राहु प्रतिनतारा में तय हुई थी। 5 नवंबर को मुझे देने का मेरा वास्तविक कारण था कि इस समय सूर्य तुला राशि में राहु तारा को पार कर जाएगा और मैं आमतौर पर 15-20 दिन से 30 दिन आगे की समय सीमा देता हूं। यही कारण है कि जब सूर्य तुला राशि में था और राहु तारा में उसका विवाह तय हो गया।

----------------------------------------------------------------------------------------------------------------
22 agast 1992 ko janm hua, 6:50, 74ai45- 22n12
vah vartamaan mein 11-02-2025 tak raahu kee mahaadasha chala raha hai aur antaraatri 03-09-2021 tak shukr ka hai, shukr, brhaspati, soory apane 7 ven bhaav ko dekh rahe hain. unaka 7 vaan shubh up svaamee budh hai. ise sain kainsar mein rakha gaya hai. budh, budh ke taare mein aur budh ke up mein hai.
 budh 2-11 gharon ka shaasak hai aur is prakaar kundalee mein vivaah ka vaada kiya jaata hai. isake alaava, kepee jyotishiyon ko pata hai ki kaahaart bhee budh kee upasthiti ke kaaran talaak ke lie itanee drdhata se hai. isake alaava 12 ven ghar mein 7 ven seeesel ek svaagat yogy sanket nahin hai.

raahu, mahaadasha bhagavaan brhaspati ke hastaakshar mein hai jo mool nivaasee ke lie achchha karane ke lie apanee shakti ko door karata hai. yahaan raahu adhik mahatvapoorn ho jaata hai. raahu ketu taare mein aur chandrama ke up mein hai. ketu budh sanket mein hai aur is prakaar budh ka ek ejent hai. budh bhee 7 vaan shubh up svaamee hai. ketu mangal taara mein aur shukr ke up mein hai.
shukr 7 ven bhaav ka pahaloo hai aur shukr ke taara mein aur budh ke up mein sthit hai.

is prakaar ve 7 ven ghar ya 7 ven seeesel ke saath jud rahe the. vivaah nishchit ho gaya ya shukr ke antara mein manaaya gaya. lekin jab? raahu na keval brhaspati ke sanket mein hai, balki isake dvaara bhee aakaankshee hai. is prakaar brhaspati ke hastaakshar ke kaaran raahu vivaah dene ke lie bahut majaboot hai. to mainne unase kaha ki 5 navambar tak aapakee shaadee tay ho jaegee, main aapakee janmakundalee ke aadhaar par yah majaboot mahasoos kar raha hoon. raahu pratinataara 10-03-2020 tak tha aur brhaspati sookshma tithi 16 navambar tak thee.

kuchh din pahale mujhe usaka sandesh mila ki usakee shaadee kuchh din pahale 5 navambar ko raahu pratinataara mein tay huee thee. 5 navambar ko mujhe dene ka mera vaastavik kaaran tha ki is samay soory tula raashi mein raahu taara ko paar kar jaega aur main aamataur par 15-20 din se 30 din aage kee samay seema deta hoon. yahee kaaran hai ki jab soory tula raashi mein tha aur raahu taara mein usaka vivaah tay ho gaya.

Acharya Raman
7566384193

No comments:

Post a Comment