Wednesday, 13 June 2018

कुंडली से कैसे देखिए जातक का चरित्र : कुंडली मिलान

एक ऐसी जातिका जिसका सम्पूर्ण जीवन अन्योन्य समबन्धों से परिपूर्ण रहा और आज भी है | अष्टम में स्थित मंगल बहुत ही वीभत्स मांगलिक दोष बनाता हुआ | अपने पति को छोड़ा , फिर अपने पहले आशिक़ को और अब दुसरे आशिक़ के साथ जीवन यापन | जातिका MBA है , स्वनक्षत्र का पंचमेश शुक्र गुरु के उपनक्षत्र में जो की अष्टमेश है , गुप्त संबंधों में प्रवीण इस जातिका की शिक्षा MANAGEMENT  में गुरु की नौवीं दृष्टि से संभव हुई और अभी यह एक बड़ी कंपनी के वाईस प्रेजिडेंट की पर्सनल सहायिका के तौर पर कार्यरत है |  चतुर्थ भाव का उपनक्षत्र स्वामी शुक्र स्वयं के नक्षत्र में होने से उच्च शिक्षा संभव -- दूसरा कारण | सप्तम का उपनक्षत्र स्वामी राहु केतु के नक्षत्र में - विजातीय संबंधों को प्रदर्शित करता हुआ , स्वयं सप्तमेश ही अष्टम में राहु के साथ अनैतिक संबंधों की चाह को बढ़ावा देता हुआ , साथ ही द्वादशेष गुरु से युति इच्छा को प्रबलता देती हुई , सप्तम भाव में चंद्र , मंगल, गुरु , शनि , राहु भाव चलित में अति कामुकता को प्रदर्शित करते हैं | एक बहुत ही अनैतिक चरित्र किन्तु साथ ही प्रबल कार्यक्षेत्र में सफलता के योग | स्वास्थ्य हानि के योग | चाहे स्त्री हो या पुरुष , विवाह के समय यह ज़रूर देखें की सप्तमेश की स्थिति क्या है और सप्तम का उपनक्षत्र स्वामी क्या कह रहा है ? अन्यथा आपका जीवन बहुत ही त्रस्त हो सकता है | अभी कल ही एक प्रसिद्द सज्जन ने आत्महत्या करी है और कयास लगाया जा रहा है की उनकी दूसरी  धर्मपत्नी अथवा विवाहेतर सम्बन्ध ही शायद ऐसे कदम का कारन रहे हों किन्तु यह अपुष्ट समाचार है |
गोचर का मंगल केतु संगम आने वाले समय में किसी दुर्घटना की पूर्वसूचना भी दे रहा है और मई  २०१९ के पूर्व कुछ घटना स्वाथ्य को लेकर संभव हो सकती है |


wattsapp 7566384193 for horoscope consultation and charges.